Competition Community

अभ्यर्थी संकलन (28 June 2019)

admin Abhiyarthi Sankalan

Based on Chhattisgarh/National/International Current Affair

राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय समसामयिक

G-20 शिखर सम्मेलन-2019

इस बार जी 20 शिखर सम्मेलन जापान के ओसाका में हो रहा है। जी 20 सम्मेलन का यह चौदहवां संस्करण है। इस साल शिखर सम्मेलन 28 जून से 29 जून 2019 तक ओसाका में अंतर्राष्ट्रीय प्रदर्शनी केंद्र में आयोजित किया जा रहा है। बता दें कि यह जापान में आयोजित होने वाला पहला G20 शिखर सम्मेलन है।

G 20 शिखर सम्मेलन को औपचारिक रूप से वित्तीय बाजारों और विश्व अर्थव्यवस्था के सम्मेलन के रूप में जाना जाता है। वैश्विक मंच होने की वजह से यहां पर उठने वाले सभी मुद्दे खास अहमियत रखते हैं। दुनिया की कुल जीडीपी के 80 प्रतिशत से अधिक का प्रतिनिधित्व जी 20 में शामिल देश करते हैं।

G-20 शिखर सम्मेलन-2019

अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति (IOC)

भारत ने अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति (IOC) के समक्ष वर्ष 2023 में होने वाले सत्र की मुंबई में मेज़बानी करने के लिये दावा पेश किया है।

भारतीय ओलंपिक संघ के अध्यक्ष नरिंदर बत्रा और IOC सदस्य नीता अंबानी ने IOC की संचालन संस्था के 134वें सत्र से इतर IOC प्रमुख थॉमस बाक को औपचारिक बोली पत्र सौंपा। वर्ष 2022-23 में स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगाँठ है और भारतीय खेलों के लिये इससे बेहतर क्या हो सकता है कि इस अवसर पर संपूर्ण ओलंपिक समुदाय-परिवार भारत में उपस्थित रहे।

जल शक्ति अभियान

केंद्र सरकार के कार्मिक एवं प्रशिक्षण मंत्रालय (Department of Personnel and Training) ने पानी की कमी से जूझ रहे देश के 255 ज़िलों में वर्षा जल के संचयन और संरक्षण हेतु 1 जुलाई, 2019 से ‘जल शक्ति’ अभियान की शुरू करने की घोषणा की है।

उल्लेखनीय है कि जल से संबंधित मुद्दे राज्य सरकार के अंतर्गत आते है लेकिन इस अभियान को केंद्र सरकार के संयुक्त या अतिरिक्त सचिव रैंक के 255 IAS अधिकारियों द्वारा समन्वित किया जाएगा।

छत्तीसगढ़ समसामयिक

हरियर छत्तीसगढ़ अभियान

हरियर छत्तीसगढ़ अभियान के तहत इस वर्ष छत्तीसगढ़ राज्य में 7 करोड़ 13 लाख पौधों के रोपण का लक्ष्य रखा गया है। राज्य की प्रमुख पांच नदियों इन्द्रावती, अरपा, खारून, शिवनाथ और सकरी नदी के किनारे 633 हेक्टेयर क्षेत्र में 7 लाख 38 हजार 826 पौधांे का रोपण किया जाएगा, इसमें फलदार पौधों के रोपण को प्राथमिकता दी जाएगी।

राज्य के 594 नदी-नालों के किनारे लगभग 23 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में पौधरोपण किए जाएंगे। राज्य के प्रमुख एवं बड़े तकनीकी शिक्षण संस्थाओं जैसे आईआईएम, आईआईआईटी, चिकित्सा महाविद्यालय कैम्पस बस्तर, चिकित्सा महाविद्यालय राजनांदगांव, जंगल सफारी सहित सभी नगरीय निकायों के प्रमुख उद्यानों में भी पौधरोपण किए जाएंगे।

You May Also Like..

आरबीआई ने रेपो रेट को अपरिवर्तित 5.15% रखा

अभ्यर्थी संकलन (06 December 2019)

राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय समसामयिक भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 451.7 अरब डॉलर के सर्वोच्च स्तर पर पहुंचा 3 दिसम्बर को समाप्त हुए […]

अंतर्राष्ट्रीय दिव्यांगजन दिवस

अभ्यर्थी संकलन (04 December 2019)

छत्तीसगढ़ समसामयिक छत्तीसगढ़ के गरीबी दर में 2.1 फीसदी की बढ़ोतरी एनएसओ (NSO) के सर्वे अध्ययन के अनुसार साल 2011-12 […]

इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट निषेध विधेयक-2019 पारित

अभ्यर्थी संकलन (03 December 2019)

राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय समसामयिक इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट निषेध विधेयक-2019 पारित संसद ने 02 दिसंबर 2019 को इलेक्‍ट्रानिक सिगरेट निषेध विधेयक- 2019 पारित कर […]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *