Competishun blogs

Logo

Blogs

COCO

Competition Community

IT Help : 9993555585

Other Enquiry : 7747901111

Blogs

लद्दाख पैंगोंग त्सो में भारत की पहली फ्रोजन-लेक मैराथन की मेजबानी करेगा

According to the information, this marathon was organized for the first time on February 20, at an altitude of about 13,862 feet. The 21 kilometer marathon started from Lukung and ended at Maan village. According to officials, the 21 km marathon is the first of its kind in India to be held at an altitude of 13,862 feet. He informed that this marathon was organized under the joint supervision of Indian Army, State Disaster Response Force (SDRF) and Indo-Tibetan Border Police (ITBP).

Latest

स्वतंत्र भारत का पहला बजट था अंतरिम बजट

आपने कई बार पढ़ा होगा और सुना होगा कि भारतीय संविधान में बजट शब्द का उल्लेख ही नहीं है, तो फिर पूर्ण या अंतरिम बजट जैसे शब्द क्यों? इसके लिए आपको बस 174 साल पीछे जाना होगा, जब इकोनॉमिस्ट पत्रिका और चार्टर्ड बैंक ऑफ इंडिया, आस्ट्रेलिया और चाइना (जो बाद में स्टैंटर्ड बैंक में मिलाए जाने के बाद अब स्टैंडर्ड चार्टर्ड के नाम से जाना जाता है) के संस्थापक और ब्रितानी अर्थशास्त्री जेम्स विल्सन ने भारत में पहली बार 7 अप्रैल 1860 को कमाई व खर्चे का लेखा-जोखा पेश किया जिसे बजट का नाम दिया गया।

परीक्षा पर चर्चा

“यह CGPSC प्रीलिम्स आपके मस्तिष्क के सभी कोशिकाओं का खेल हैं..." यह लाइन उतनी ही शत प्रतिशत सत्य हैं जितना सत्य अपना इस धरती पर आपका जन्म लेना।

लद्दाख पैंगोंग त्सो में भारत की पहली फ्रोजन-लेक मैराथन की मेजबानी करेगा

According to the information, this marathon was organized for the first time on February 20, at an altitude of about 13,862 feet. The 21 kilometer marathon started from Lukung and ended at Maan village. According to officials, the 21 km marathon is the first of its kind in India to be held at an altitude of 13,862 feet. He informed that this marathon was organized under the joint supervision of Indian Army, State Disaster Response Force (SDRF) and Indo-Tibetan Border Police (ITBP).

VIEW ALL BLOGS

Exam Preparation Strategy

स्वतंत्र भारत का पहला बजट था अंतरिम बजट

आपने कई बार पढ़ा होगा और सुना होगा कि भारतीय संविधान में बजट शब्द का उल्लेख ही नहीं है, तो फिर पूर्ण या अंतरिम बजट जैसे शब्द क्यों? इसके लिए आपको बस 174 साल पीछे जाना होगा, जब इकोनॉमिस्ट पत्रिका और चार्टर्ड बैंक ऑफ इंडिया, आस्ट्रेलिया और चाइना (जो बाद में स्टैंटर्ड बैंक में मिलाए जाने के बाद अब स्टैंडर्ड चार्टर्ड के नाम से जाना जाता है) के संस्थापक और ब्रितानी अर्थशास्त्री जेम्स विल्सन ने भारत में पहली बार 7 अप्रैल 1860 को कमाई व खर्चे का लेखा-जोखा पेश किया जिसे बजट का नाम दिया गया।

परीक्षा पर चर्चा

“यह CGPSC प्रीलिम्स आपके मस्तिष्क के सभी कोशिकाओं का खेल हैं..." यह लाइन उतनी ही शत प्रतिशत सत्य हैं जितना सत्य अपना इस धरती पर आपका जन्म लेना।

CGPSC exam preparation tips

Are you preparing for the next CGPSC exam? Here are some essential CGPSC exam preparation tips you can try at home!

Indian Polity

संविधान – एक जीवंत दस्तावेज

The constitution was changed 4 times in the Soviet Union. A new constitution was adopted from 1993. In France, the constitution was changed 5 times in 200 years. In 1958, the 5th Republic was established with a new constitution. Thus we can say that we inherited a strong constitution. Our constitution makers were very visionary. He had solved many future questions at the same time.

अनुच्छेद 356 क्या है?

The basis for Article 356 can be found in the Government of India Act of 1935. When the state government is suspended under Article 356 (also known as President's rule), the governor serves as the state's chief executive as the representative of the federal government. In 1954, Article 356 was first put to use.

'राज्‍यपाल की शक्तियां एवं उनसे जुड़े विवाद'

राज्‍यपाल यानी किसी भी "राज्‍य का संवैधानिक मुखिया", जिस प्रकार केंद्र में राष्‍ट्रपति की भूमिका होती है, ठीक उसी प्रकार से केंद्र में राष्‍ट्रपति की भूमिका होती है, ठीक उसी प्रकार राज्‍य में राज्‍यपाल की।

Inspirational

Dashrath Manjhi: The Mountain Man

A legend who demonstrated that nothing is insurmountable is Dashrath Manjhi, often known as the "Mountain Man." His example demonstrates that a weak person with little influence and few resources may overcome a powerful mountain.

Human Development

Importance of Reasoning in our Life

Human aptitudes like empathy and understanding are enhanced by reasoning. They foster creativity by assisting kids in identifying connections and taking a comprehensive approach to solving issues.

Science & Technology

इसरो एवं गगनयान मिशन

Gaganyaan is the first manned mission to space by the Indian Space Research Organization (ISRO). Gaganyaan mission is the biggest budget mission of ISRO till date which is close to 10,000 crores. There was a time when the world had reached the moon (USA-Apollo-11, year 1969) then we were establishing ISRO in India (August 15, year 1969). ISRO is the pride of India because it is the most successful organization in the field of science and technology. ISRO has a success percentage of more than 95% which is the highest in comparison to other space agencies in the world.

Indian history

बौद्ध धर्म का उत्‍थान एवं बौद्ध धर्म की देन / योगदान

Rise of Buddhism:- Buddhism was popular in North India from the time of Mahatma Buddha. Mahatma Buddha and contemporary social, economic and political factors were mainly responsible behind its success.

अकबर एक राष्ट्रीय शासक के रूप में

अकबर का जन्म अमरकोट के राजा बीरसाल के महल में 1542 में हुआ था । जिस समय हुमायूं की मृत्यु हुई उस समय अकबर कलानौर (पंजाब ) में था, वहीं पर 1556 में 13 साल 4 माह की छोटी सी आयु में इसका राज्य अभिषेक हुआ । अकबर ने एक छोटी सी उम्र में मुगलों की विरासत का कांटो भरा ताज अनेक चुनौतियों के साथ संभाला और इन चुनोतियों ने अकबर को एक राष्ट्रीय शासक के रूप में स्थापित किया जिससे अकबर मध्यकालीन इतिहास में एक महान शासक के रूप में प्रसिद्ध हुआ । अनेक इतिहासकर अकबर को एक राष्ट्रीय सम्राट के रूप में मानते हैं क्या अकबर सच में राष्ट्रीय सम्राट था ? आइये देखते है उसके कार्यो और उसकी नीतियों के आलोक में —

Hindi Literature

हिन्‍दी का महत्‍व व उसके प्रयोक्‍ता

“कोस-कोस के बदले पानी चार कोस में वाणी।” जी हॉं! यह कहावत हमारी भाषा हेतू बिल्‍कुल चरितार्थ होती है। जिस तरह नदी की प्रवाहमान धारा अपने साथ जलकणों तथा अपशिष्‍टों को साथ लेकर बहती है, उसी तरह भाषा अपने साथ बोलियाँ तथा उपबोलियॉं को लेकर व्‍यवह्रत होती है। हालॉंकि इनमें से कुछ बोलियॉं अपनी क्षेत्रीय सीमा दायरे को लांघकर साहित्‍य जगत में कदम रखकर “विभाषा या उपभाषा” का तमगा प्राप्‍त कर लेती है और भाषा भी उन्‍हें अपनी सहचरी तथा भगिनी की तरह सहर्ष आलिंगन करती हुई स्‍वीकार कर लेती है।

हिंदी साहित्य में प्रकृति की चिंता

भारतीय साहित्य और दर्शन स्वयं में सम्पूर्ण रूप से पर्यावरण केन्द्रित हैं । पर्यावरण कोई आधुनिक संप्रत्यय नहीं वरन वैदिक काल से निरंतर चला आ रहा है । प्रकृति और मनुष्य के बीच माता-पुत्र का सम्बन्ध बताते हुए हजारी प्रसाद द्विवेदी अपनी रचना कुट्ज में लिखते है – “यह घरती मेरी माता है, और मैं इसका पुत्र हूँ । इसलिए मैं सदैव इसका सम्मान करता हूँ, और मेरी धरती माता के प्रति मई नतमस्तक हूँ ।”

Sociology

भारत में समाजवाद

भारत में समाजवाद की बात करे, उससे पहले यह आवश्यक हो जाता है कि हम समाजवाद को समझे, कि आखिरकार समाजवाद होता क्या हैं? समाजवाद की शुरुआत कहा से हुई? क्योंकि ऐसे काई प्रकार के प्रश्न हम सब क मन में उठते रहते हैं;

Chhattisgarhi blog

एकात्मकता का अनूठा तथा अन्नदान का महापर्व-छेरछेरा [भाग - II]

छत्तीसगढ़िया संस्कृति ने सदैव ही जीवन के प्रति अगाध श्रद्धा और प्रेम सह अनुराग का पाठ पढ़ाया है यही कारण है कि अनेक घात, प्रतिघातों के बावजूद भी छत्तीसगढ़िया सांस्कृतिक प्रवाह निरंतर अबाध गति से प्रवाहित होता रहा है । जीवन के प्रति हमारी यही आस्था हमारे उत्सवों, त्यौहारों, पर्वों को उसी हर्ष और उत्साह के साथ मनाने की प्रेरणा देती है ।

एकात्मकता का अनूठा तथा अन्नदान का महापर्व-छेरछेरा [भाग - I]

छत्तीसगढ़िया संस्कृति ने सदैव ही जीवन के प्रति अगाध श्रद्धा और प्रेम सह अनुराग का पाठ पढ़ाया है यही कारण है कि अनेक घात, प्रतिघातों के बावजूद भी छत्तीसगढ़िया सांस्कृतिक प्रवाह निरंतर अबाध गति से प्रवाहित होता रहा है । जीवन के प्रति हमारी यही आस्था हमारे उत्सवों, त्यौहारों, पर्वों को उसी हर्ष और उत्साह के साथ मनाने की प्रेरणा देती है ।

blogs

तू जिन्दा है, तो जिन्दगी की जीत पर यकीन कर ... 

हम अभ्यर्थी हैं साहब,  हमारी हर सांस में एक कहानी है l किसी अभ्यर्थी की जिंदगी में कहानियों का अकाल एक मिथ है, यहां हर अभ्यर्थी की एक कथा है l

भारत का संविधान

भारत के संविधान के बारे में बात करें, उससे पहले समझते हैं कि, संविधान होता क्या है? सामान्य अवधारणा के अनुसार, संविधान नियमों और उपनियमों का एक ऐसा लिखित दस्तावेज है, जिसके आधार पर किसी राष्ट्र की सरकार का संचालन किया जाता है । यह देश की राजनीतिक व्यवस्था का बुनियादी ढांचा निर्धारित करता है।

Miscellaneous

लद्दाख पैंगोंग त्सो में भारत की पहली फ्रोजन-लेक मैराथन की मेजबानी करेगा

According to the information, this marathon was organized for the first time on February 20, at an altitude of about 13,862 feet. The 21 kilometer marathon started from Lukung and ended at Maan village. According to officials, the 21 km marathon is the first of its kind in India to be held at an altitude of 13,862 feet. He informed that this marathon was organized under the joint supervision of Indian Army, State Disaster Response Force (SDRF) and Indo-Tibetan Border Police (ITBP).

भारतीय षड्दर्शन

Darshanshastra or Philosophy is the backbone of the eternal Indian tradition and this philosophy is also the root of modern science. Shaddarshan (six visions) is more famous and ancient in Vedic philosophies. These are known as Samkhya, Yoga, Nyaya, Vaisheshika, Mimansa, and Vedanta.

आत्महत्या का मुख्य कारण आत्म अवसाद या बाह्य परिस्थितियाँ

Suicide is often committed out of despair, which is attributed to mental disorders such as depression, bipolar disorder, schizophrenia, alcoholism, or drug abuse.

Downloads

CGPSC PRELIMS+MAINS SYLLABUS

CGPSC PRELIMS+MAINS SYLLABUS

CGPSC Mains Old Years Question Papers

CGPSC Mains old years question papers

CGPSC Prelims Previous Years Papers

Papers of CGPSC prelims old years

Tags

DownloadsBlogsParitosh JaiswalRishabh PandeyExam StrategiesSrijan MahantKomal SahuGaneshram AdityaMayur KasturiM.M AlamAjit KumarDheeraj YadavSukhveer SinghIshar AhmadDhirendra Pratap SinghAnnu RoyNikahat Parveen KhanHemant PradhanKamlesh SinhaYashwant Singh RajputTrisha SinghEducationCGPSC Prelims 2023CGPSC Mains 2023knowledge